thebiharnews-in-chhath-market

छठ पर्व को लेकर फल मंडी में तेजी

लोकआस्था के महापर्व छठ को लेकर बेगूसराय का फल बाजार चमक उठा है। छठ पूजा में फलों की खपत को देखते हुए व्यापारियों ने 15 लाख नारियल मंगवाया है, जिसकी बाजार कीमत 6 करोड़ बतायी जा रही है। इसके अलावा सिर्फ दो दिनों में ही 215 लाख रुपए के विभिन्न प्रकार के फल बिकने का अनुमान है। फल विक्रेताओं की मानें तो इस बार छठ में 15 लाख रुपए के 600 टन सेब की बिक्री होगी।

पूरा क्षेत्र फल बाजार में तब्दील

इसी तरह 13 लाख के 250 टन संतरे, 40 लाख का एक लाख पीस अनानास, 16 लाख रुपए के 83 हजार दर्जन केले, 15 लाख रुपए के एक लाख बारह हजार ईख बिकेंगे। फलों की बिक्री को लेकर मंगलवार को गांव से लेकर शहर तक पूरा क्षेत्र फल बाजार में तब्दील दिखा। जहां हर ओर फलों की ही दुकान दिख रही है। फल मंडियों में जगह खत्म होने के कारण व्यवसायियों ने मंडी के बाहर ही फल को रखकर अस्थायी गोदाम बनाया है।

जहांतक साफ-सफाई और व्यवस्था की बात है तो बेगूसराय का विष्णुपुर चतुर्भुज पोखर हर मायने में सबसे खास है। यहां आने वाले हरेक व्यक्ति को महानगरों के पोखरों जैसा एहसास होगा। पोखर की साफ-सफाई और सुन्दरता इतनी अच्छी है कि कोई भी पहली बार देखे तो अनायास उसके मुंह से वाह जरूर निकलेगा। इसके बाद रिफाइनरी टाउनशिप स्थित पोखर लोगों की पहली पसंद है। इसके बाद ऑफिसर्स कॉलोनी स्थित पोखर हरेक मायने में खास होगा।

ट्रैफिक चौक और मेन मार्केट में सज गई हैं कई दुकानें

बाजारोंमें दुकानों की संख्या में अचानक इतनी वृद्धि हो गई है कि शहर के चप्पे-चप्पे पर दुकानें खुल गई हैं। खास कर शहर के ट्रैफिक चौक और मेन मार्केट में सड़क के दोनों किनारों पर हरेक कदम पर दुकानें सजी हैं। जहां तरह-तरह के फलों के अलावे सूप-डलिया समेत अन्य पूजन सामग्री उपलब्ध है। अत्यधिक खपत के कारण शहर के कई जगहों पर अस्थायी रूप से मंडी बनाया गया है। जहां फल व्यवसायी फल का स्टोर कर बेच रहे हैं। ट्रैफिक चौक के समीप स्थायी मंडी में सेब,नारंगी,केले का स्टॉक किया गया है। इसके अलावे जेके स्कूल के समीप केले और अनानास का स्टॉक किया गया है। इसी तरह लाखों में नारियल का स्टॉक किया गया है। जहां 300 ट्रक नारियल मंगवाया गया है।

ये भी पढ़े : दानापुर से लेकर सिटी तक गंगा में तैनात होंगे NDRF के 600 जवान, ऐसी होगी सुरक्षा